पुस्तक चयन के स्रोत (Selection Tools for Books) का वर्णन कीजिये ?

विकसित राष्ट्रों के पुस्तकालयों में संग्रह विकास में मुद्रित एवं अमुद्रित सामग्रियों को बराबर का महत्व दिया जाता है । जबकि विकासशील देशों में अभी इस पर बहुत कम ध्यान दिया जाता है | भारत में अधिकतर अमुद्रित सामग्री विदेशों से आयात की जाती है, जिनके चयन और अवाप्ति में परेशानी होती है । साथ ही यह खर्चीली भी होती है ।।

पुस्तक चयन के स्रोत (Selection Tools for Books) का वर्णन कीजिये ?

आज पूरे विश्व में प्रतिदिन लाखों की संख्या में पाठ्य पुस्तकों का प्रकाशन हो रहा है । इन प्रकाशित पुस्तकों या निकट भविष्य में प्रकाशित होने वाली पुस्तकों के सम्बन्ध में बिना उचित जानकारी (जैसे – लेखक, आख्या, विषय संस्करण प्रकाशक, मूल्य, प्रकाशन वर्ष इत्यादि) के पुस्तकों का चयन करना असंभव है । विभिन्न प्रकार के चयन स्रोतों से इस प्रकार की कथात्मक सूचना (Bibliographic Information) प्राप्त की जाती है । पुस्तकों के चयन और संग्रह विकास के लिए पुस्तकालयों में इस प्रकार के स्रोतों का होना जरूरी है । आज तक कोई भी ऐसा एक चयन स्रोत उपलब्ध नहीं है जिसके आधार पर सभी प्रकार की पुस्तकों का चयन किया जा सके । पुस्तक चयन हेतु अनेक प्रकार के स्रोत उपलब्ध हैं । पुस्तकालय में इनका उपयोग करके अच्छी ग्रन्थ का चयन किया जा सकता है ।
पुस्तक चयन के विभिन्न स्रोतों को निम्नलिखित श्रेणियों के अन्तर्गत विभक्त करके अध्ययन किया जा सकता है

4.1 प्रकाशक सूचियाँ (Publishers Catalogues)

यह एक महत्वपूर्ण पुस्तक चयन स्रोत है । जिसका प्रकाशन प्रकाशक अपने द्वारा प्रकाशित पुस्तकों के विक्रय को बढ़ावा देने के लिए करता है । प्रकाशक एक निश्चित समयावधि (साप्ताहिक, मासिक, त्रैमासिक इत्यादि) पर नवीन प्रकाशित पुस्तकों या निकट भविष्य में प्रकाशित होने वाली पुस्तकों की सूची, पुस्तिका (Leaflet) जैकेट इत्यादि को प्रकाशित कर पुस्तकालयों को भेजता रहता है । इस प्रकार के प्रकाशक पुस्तक के बारे में प्राय: सभी महत्वपूर्ण ग्रन्थ परक सूचनाएं (Bibliographical Information) जैसे – लेखक, आख्या (Title), प्रकाशक, प्रकाशन स्थान, प्रकाशन वर्ष पृष्ठ संख्या संस्करण मूल्य, अन्तर्राष्ट्रीय मानक पुस्तक संख्या {International Standard Book Number,(ISBN)} प्रदान करता है । जिनके आधार पर पुस्तकालय पुस्तकों का चुनाव कर सकता है ।
सभी देशों के प्रकाशक इस प्रकार की सूचियों का प्रकाशन करते हैं । उदाहरणस्वरूप – * Indian Book Industry. New Delhi : Streling Publishers, – Monthly * Indian Publisher and Book Seller. Mumbai : Popular Book Depot, Monthly. * NBT Newsletter. New Delhi : National Book Trust – Monthly. * Publisher Monthly. New Delhi : S. Chand and Co., – Monthly. * ASLIB Book List. London : Aslib, – Monthly. Book Seller : The organ of the book trade. London : J. Whitakers and Sons, – Weekly.
इसी प्रकार प्रायः सभी महत्वपूर्ण प्रकाशक जैसे – Oxford University Press, Cambridge University Press, Sage Publication, D.K. Publication, Macmillion, Motilal Banarsi Das इत्यादि अपने प्रकाशनों का नियमित सूची प्रकशित कर पुस्तकालयों को भेजते रहते हैं, जिनके आधार पर पुस्तकों का चयन किया जा सकता है ।

4.2 पुस्तक विक्रेता सूचियाँ (Bookseller’s Catalogues)

प्रकाशक सूची के अतिरिक्त कुछ महत्वपूर्ण पुस्तक विक्रेता भी अपने यहां संगृहीत विक्रय योग्य पुस्तकों की सूची प्रकाशित कर पुस्तकालयों को समय-समय पर भेजते रहते हैं । इस प्रकार की सूची में भी प्राय: सभी महत्वपूर्ण कथात्मक सूचनाएं (Bibliographical Information) रहती हैं । यह भी एक महत्वपूर्ण पुस्तक चयन का स्रोत है । उदाहरणस्वरूप – * UBS Publishers Distributors Cataloguel New Delhi : इसमें करीब 110 विदेशी प्रकाशनों और 150 भारतीय प्रकाशनों द्वारा प्रकाशित पुस्तकों की सूची
सम्मिलित होती है ।। | India Book House’s Catalouge. Mumbai : इसमें 20 भारतीय प्रकाशकों के द्वारा प्रकाशित पुस्तकों की सूची सम्मिलित रहती है ।
इसी प्रकार विभिन्न पुस्तक विक्रेता विभिन्न भाषाओं में अपने संग्रह में उपलब्ध साहित्य के लिए भी अलग-अलग सूचियों को प्रकाशित कर पुस्तकालयों को भेजता रहता है, जो कि पुस्तक चयन के स्रोत के रूप में काम करता है ।

 4.3 राष्ट्रीय ग्रन्थ सूचियाँ (National Bibliographies)

राष्ट्रीय ग्रन्थ सूची किसी राष्ट्र में प्रकाशित ग्रन्थों एवं अन्य सामग्रियों की सूची है । रंगनाथन के अनुसार राष्ट्रीय ग्रन्थ सूची में निम्न प्रकार के प्रकाशनों की सूची प्रकाशित होती की।
* किसी राष्ट्र में प्रकाशित ग्रन्थों की सूची ।।
* किसी राष्ट्र पर प्रकाशित ग्रन्थों की सूची ।।
* किसी राष्ट्र के नागरिकों द्वारा प्रकाशित ग्रन्थों की सूची ।
* किसी राष्ट्र के नागरिकों पर प्रकाशित ग्रन्थों की सूची । | यह आवश्यक नहीं है कि राष्ट्रीय ग्रन्थ सूची में किसी राष्ट्र से प्रकाशित सिर्फ ग्रन्थों की सूची ही प्रकाशित हो, बल्कि इसमें सामयिकी, फिल्मस इत्यादि अन्य प्रकार के अमुद्रित सामग्रियों की सूची भी प्रकाशित होती है । यह किसी भी राष्ट्र की नीति पर निर्भर करता है कि वह अपनी राष्ट्रीय ग्रन्थ सूची में केवल एक प्रकार के प्रकाशन को समाहित करता है या एक से अधिक प्रकार के प्रकाशनों को । चूंकि ग्रन्थों का प्रकाशन एक निरन्तर (Continuous) प्रक्रिया है । अत: राष्ट्रीय ग्रन्थ सूची का प्रकाशन साप्ताहिक, मासिक, त्रैमासिक इत्यादि समयावधि में हो सकता है । इनके संचयी (Cumulative) अंक का प्रकाशन वर्ष में एक बार, तीन वर्ष में एक बार या पांच वर्ष में एक बार हो सकता है ।
प्राय: सभी देशों (संयुक्त राज्य अमेरिका से राष्ट्रीय ग्रन्थ सूची का प्रकाशन नहीं होता है) की अपनी एक राष्ट्रीय ग्रन्थ सूची होती है । जिसमें पूरे देश से प्रकाशित प्रलेखों की सूची प्रकाशित होती है । यह एक प्राधिकृत (Authoritative) और विश्वसनीय चयन स्रोत होता है । भारत और ग्रेट ब्रिटेन के राष्ट्रीय ग्रन्थ सूचियों का वर्णन निम्न है – * Indian National Bibliography. Culcutta : Reference Library, – Monthly:
इंडियन नेशनल बिब्लियोग्राफी (INB) भारत की राष्ट्रीय ग्रन्थ सूची है । आई. एन. बी. का आधार वे प्रकाशन होते हैं, जो राष्ट्रीय पुस्तकालय, कलकत्ता में डिलीवरी ऑफ बुक्स एक्ट, 1954 (The Delivery of Books Act, 1954) एवं 1956 के संशोधित अधिनियम जिसमें समाचार पत्रों को भी सम्मिलित किया गया है, के अन्तर्गत जमा किये जाते हैं । इस प्रकार यह नवीन प्रकाशित भारतीय प्रकाशनों की सूची है ।
 इसमें कुछ प्रकाशनों को सम्मिलित नहीं किया जाता है, जैसे –
(a) मानचित्र
(b) संगीतात्मक कृति
(C) सामयिक प्रकाशन एवं समाचार पत्र (नये सामयिक प्रकाशनों के प्रथम अंकों एवं परिवर्तित आख्या के सामयिक प्रकाशनों के प्रथम अंकों के अतिरिक्त)
 (d) पाठ्य ग्रन्थों की सदर्शिकाएँ
 (e) अस्थाई पाठ्य सामग्री (Ephmeral Material) इत्यादि । आई. एन. बी. विभिन्न भारतीय भाषाओं जैसे – असमी, बंगाली, अंग्रेजी, गुजराती, हिन्दी, कन्नड़, मलयालम, मराठी, उड़ीया पंजाबी, संस्कृत, तमिल, तेलगू उर्दू इत्यादि में प्रकाशित ग्रन्थों की सूची को अपने अन्तर्गत सम्मिलित करती है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *